ये जरुरी तो नहीं – अनुज शुक्ल

ये जरुरी तो नहीं……..ख्वाबों में तेरा दीदार करु,मैं टूटकर तुझसे प्यार करु,पर तु भी मुझसे प्यार करेंये जरुरी तो नहीं…….. माना तुम्हारे हजारों दिवाने है जमाने में,पर… Read more “ये जरुरी तो नहीं – अनुज शुक्ल”

क्या रामायण का उत्तर कांड प्रक्षिप्त है….??

क्या राम ने सीता का त्याग किया था?शुद्र तपस्वी शम्बुक वध क्यों??प्रभु श्री राम के सन्दर्भ में कुछ भ्रांतियां अर्थात गलत बाते फैलाई गयी हैं उनका तार्किक… Read more “क्या रामायण का उत्तर कांड प्रक्षिप्त है….??”

पराया हमें वो बताने लगे हैं

इशारे से सब कुछ जताने लगे हैंमुझे अपना अब वो बनाने लगे हैं। उठाया है मैने जिन्हें ज़िन्दगी भर,वही आज मुझको गिराने लगे हैं। बताते थे ख़ुद… Read more “पराया हमें वो बताने लगे हैं”

फुलवाम शहीदों को नमन –अपना वतन चाहिए

न सोहरत न दौलत मुझे अपना वतन चाहिए |फलता फूलता और मुझे खिलता चमन चाहिए |न हो दुश्मन कोई न हो अड़चन कोई |मर सकूँ मै वास्ते… Read more “फुलवाम शहीदों को नमन –अपना वतन चाहिए”

Propose Day – हमको तुमसे प्यार बहुत है

एक तुम्हारा होना पूरे घर को पावन कर देता हैमन मथुरा काशी बसती है दिल को मधुवन कर देता हैतेरी छुवन से रोम रोम भी जैसे संदल… Read more “Propose Day – हमको तुमसे प्यार बहुत है”

पूर्वजों के प्रति सच्ची श्रद्धा ही सही मायने में श्राद्ध है – एम के पाण्डेय ‘निल्को’

श्राद्ध का अर्थ है, श्रद्धा से जो कुछ दिया जाय (श्रद्धया दीयते यत् तत् श्राद्धम) शास्त्रों में मनुष्य के लिए कुल 3 ऋण बतलाए गए हैं- 1.… Read more “पूर्वजों के प्रति सच्ची श्रद्धा ही सही मायने में श्राद्ध है – एम के पाण्डेय ‘निल्को’”

तुलसीदास जयंती पर होगा वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान, भजन संध्या और पौधारोपण

जयपुर , सरयूपारीण ब्राह्मण समाज, राजस्थान द्वारा दिनांक 7 अगस्त 2019 को गोस्वामी तुलसीदास जयंती मनाई जाएगी । इस दौरान सोनाबाड़ी स्थित हनुमान मंदिर पर भजन संध्या… Read more “तुलसीदास जयंती पर होगा वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान, भजन संध्या और पौधारोपण”

शैक्षणिक उपलब्धि का नया चलन 500/500

मेरी जानकारी मे पहले ऐसा नहीं था । अब शिक्षा बोर्डों मे पूर्णांक 500/500 देकर या इसके आस-पास अंक देकर पास करने का कम्पटीशन शुरू हो गया… Read more “शैक्षणिक उपलब्धि का नया चलन 500/500”

499/500 अंक पाने वाले मेधावी कितने विशिष्ट हैं !

भारतवर्ष मेधा की खान है । आदि गुरु शंकराचार्य ,स्वामी विवेकानंद ,वीरबालक अभिमन्यु के नाम से सभी परिचित हैं । आज कल कई ऐसे बच्चे टीवी पर… Read more “499/500 अंक पाने वाले मेधावी कितने विशिष्ट हैं !”

क्या प्रेम में शारीरीक संबंध जरूरी होता है? 

प्रेम में शारीरिक संबंध जरुरी है…क्योंकि शरीर की यादाश्त होती हैं…जिस प्रकार एक नव्जन्मा शिशु भी अपनी अपनी मां का स्पर्श पहचानता हैं…चाहे आंखे बन्द हो पर… Read more “क्या प्रेम में शारीरीक संबंध जरूरी होता है? “