कुछ और हो गए तुम – सोनू जैन

शेर  से  शोर  हो   गये  हो  तुम,कितने कमज़ोर हो गये हो तुम। हमको  पहचानते  नहीं  साहब,आज कुछ ओर हो गये हो तुम। बात  करते  नहीं ख़ुदा  से… Read more “कुछ और हो गए तुम – सोनू जैन”

निल्को का ये उद्दघोष है

आप के समक्ष प्रस्तुत है ‘उद्दघोष’ पर एम के पाण्डेय निल्को का एक प्रयास*****************************मैंने खोया अब होश है देखोगो अब वो मेरा जोश हैबंद करो इन सापो… Read more “निल्को का ये उद्दघोष है”