जौ के ठेकाने ना, सतुआने के तैयारी – भोजपुरी व्यंग्य -एन डी देहाती

14 अप्रेल 17 के सतुआन ह। अब लखनऊआ , दिल्लिहिया कहि दिहे सतुआन का होला। पुरबिहन से पूछ ल। सतुआन के पुरवर परिभाषा बता दीहें। सतुआ भी… Read more “जौ के ठेकाने ना, सतुआने के तैयारी – भोजपुरी व्यंग्य -एन डी देहाती”

बड़ा महत्त्व है

” बड़ा महत्त्व  है ” —————————-👉 ससुराल में साली का👉 बाग  में  माली     का👉 होठों  में  लाली    का👉 पुलिस में  गाली   का👉 मकान  में  नाली   का👉 कान  … Read more “बड़ा महत्त्व है”

रावण को ही क्यों मारे?

सिर्फ पुरुष ही अपने अन्दर के रावण को क्यों मारें…?स्त्रियों को भी चाहिये कि वो भी अपने अन्दर की कैकई, ताड़का, मंथरा और शूर्पणखा को मारें !… Read more “रावण को ही क्यों मारे?”

हाल – ए – दिल क्या सुनाऊ

कहाँ छुपा के रख दूँ मैं अपने हिस्से की शराफत,जिधर भी देखता हूँ उधर बेईमान खड़े हैं..क्या खूब तरक्की कर रहा है अब देश देखिये,खेतों में बिल्डर,… Read more “हाल – ए – दिल क्या सुनाऊ”

रविवारीय ज्ञान द्वारा एम के पाण्डेय निल्को

आज रविवार है आलस्य से भरा यह दिन मेरे लिए बातों की खिचड़ी पकाता है,  रविवार का दिन मेरे लिए शेयर मार्केट जैसा होता है कुछ भी… Read more “रविवारीय ज्ञान द्वारा एम के पाण्डेय निल्को”

अच्छा लगता है बनाम अच्छा नहीं लगता – मधुलेश पाण्डेय ‘निल्को’

मधुलेश पाण्डेय ‘निल्को’ दोस्तो, आज पहली बार युग्म मे रचना प्रकाशित कर रहा हूँ , दोनों रचना एक ही सिक्के के दोनों पहलू है। आप अपनी बहुमूल्य प्रतिक्रिया… Read more “अच्छा लगता है बनाम अच्छा नहीं लगता – मधुलेश पाण्डेय ‘निल्को’”

होली निकट आते ही कुछ …..

पानी बचाने के लिए अपना दैनिक व्यवहार बदलें, त्यौहार नहीं !! होली निकट आते ही कुछ ……………… किस्म के लोग पानी बचाने का सन्देश देना शुरू कर… Read more “होली निकट आते ही कुछ …..”

दूसरों को बिगाड़ने की लिये, अनेकों मिल जायेंगे,

दूसरों को बिगाड़ने की लिये, अनेकों मिल जायेंगे, लेकिन सुधारने के लिए करोड़ों में कोई एक ही होगा! भारतवर्ष के महान मनीषी स्वामी विवेकानंद जी के 150वें… Read more “दूसरों को बिगाड़ने की लिये, अनेकों मिल जायेंगे,”

तेरी औकात भी है मेरी तरफ देखने की?

दानदाता ने एक रूपए का सिक्का फेंका तो वह बजाए भिखारी के डिब्बे में गिरने के सड़क पर जा गिरा। भिखारी ने दानदाता को दुआएं देते हुए… Read more “तेरी औकात भी है मेरी तरफ देखने की?”

राहुल गांधी को प्रधानममंत्री बनाने की मांग

पार्टी के राजनीति में कब क्या हो जाए, कहना मुश्किल होता है। अब यही देखिए कि मुख्य विपक्षी दल बीजेपी ने राहुल गांधी को प्रधानममंत्री बनाने की… Read more “राहुल गांधी को प्रधानममंत्री बनाने की मांग”