ग़ज़ल – सरिता कोहिनूर

देश के उपकार पर अभिसार होना चाहिएआदमी को आदमी से प्यार होना चाहिए कौन कहता है,यहाँ है देश भक्तों की कमीदेखने वाली ऩज़र में धार होना चाहिए… Read more “ग़ज़ल – सरिता कोहिनूर”

कौन है यह चोटीकटवा ? जानें पूरा सच…!

बीते कई दिनों से चर्चाओं में आए चोटी कटवा को लेकर हर कोई सच्चाई जानना चाहता है । हर कोई जानना चाहता है कि आखिर क्या है… Read more “कौन है यह चोटीकटवा ? जानें पूरा सच…!”

नज़र निल्को की…….

न दुपट्टा गिरा और न उसकी उम्मीदों के दुपट्टे गिरे,पर कुछ लोग उसके दुपट्टे गिराने मे कई बार गिरेसादरएम के पाण्डेय निल्को आपके अमूल्य सुझाव आमंत्रित है… Read more “नज़र निल्को की…….”

चार पत्नियां – बोध कथा

एक आदमी की चार पत्नियाँ थी।वह अपनी चौथी पत्नी से बहुत प्यार करता था और उसकी खूब देखभाल करता व उसको सबसे श्रेष्ठ देता। वह अपनी तीसरी… Read more “चार पत्नियां – बोध कथा”

नहीं था मैं ऐसा……- प्रकाश टाटीवाल

नहीं था मैं ऐसा  प्रकाश   क़त्ल हुआ है ऐसा इस बेजान दिल का तब से हूँ उदास, गुमनाम सा इन गलियों में वैसे तो दुनिया में… Read more “नहीं था मैं ऐसा……- प्रकाश टाटीवाल”

लैपटॉप की कीमत बहू बेटियों की इज़्ज़त

यूपी के बदायूं में दो नाबालिग बहनों के साथ गैंगरेप के बाद उनकी हत्‍या कर शव पेड़ पर लटका देने के मामले के बाद भी राज्‍य सरकार… Read more “लैपटॉप की कीमत बहू बेटियों की इज़्ज़त”

आजादी के नए संघर्ष का वक्त

हमने आजादी जनता के लिए प्राप्त की थी और नारा दिया था कि हम ऐसी व्यवस्था अपनाएंगे जो जनता की जनता द्वारा और जनता के लिए होगी,… Read more “आजादी के नए संघर्ष का वक्त”

यह भी नशा, वह भी नशा – प्रेमचंद

 होली के दिन राय साहब पण्डित घसीटेलाल की बारहदरी में भंग छन रही थी कि सहसा मालूम हुआ, जिलाधीश मिस्टर बुल आ रहे हैं। बुल साहब बहुत… Read more “यह भी नशा, वह भी नशा – प्रेमचंद”

भारत की लोक कथा – चिड़िया की दाल

एक थी चिड़िया चूं-चूं। एक दिन उसे कहीं से दाल का एक दाना मिला। वह गई चक्की के पास और दाना दलने को कहा। कहते-कहते ही वह… Read more “भारत की लोक कथा – चिड़िया की दाल”